शीर्ष -10 फर्मों में से सात को एमकैप में 1.34 लाख करोड़ रुपये का नुकसान हुआ; आरआईएल सबसे बड़ी पिछड़ी

NEW DELHI: 10 सबसे मूल्यवान फर्मों में से सात का संयुक्त बाजार मूल्यांकन पिछले सप्ताह 1,34,139.14 करोड़ रुपये कम हो गया, जिसमें रिलायंस इंडस्ट्रीज को सबसे ज्यादा झटका लगा।
इक्विटी में कुल मिलाकर कमजोर रुख के बीच पिछले हफ्ते सेंसेक्स 741.87 अंक या 1.26 फीसदी टूट गया था।
हिंदुस्तान यूनिलीवर लिमिटेड को छोड़कर (एचयूएल), बजाज फाइनेंस और आईटीसी, शीर्ष -10 क्लब में अन्य को अपने बाजार मूल्यांकन में गिरावट का सामना करना पड़ा।
रिलायंस इंडस्ट्रीज का मूल्यांकन 40,558.31 करोड़ रुपये घटकर 16,50,307.10 करोड़ रुपये पर पहुंच गया।
एचडीएफसी बैंक का बाजार पूंजीकरण (एमकैप) 25,544.89 करोड़ रुपये घटकर 8,05,694.57 करोड़ रुपये रहा।
अदानी ट्रांसमिशन का मूल्यांकन 24,630.08 करोड़ रुपये घटकर 4,31,662.20 करोड़ रुपये रह गया। आईसीआईसीआई बैंक 18,147.49 करोड़ रुपये गिरकर 6,14,962.99 करोड़ रुपये हो गया।
भारतीय स्टेट बैंक का एमकैप 9,950.94 करोड़ रुपये घटकर 4,91,255.25 करोड़ रुपये और टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज (टीसीएस) 9,458.65 करोड़ रुपये घटकर 10,91,421.84 करोड़ रुपये रह गया।
का एमकैप इंफोसिस 5,848.78 करोड़ रुपये की गिरावट के साथ 5,74,463.54 करोड़ रुपये हो गया।
हालांकि, हिंदुस्तान यूनिलीवर (HUL) ने 35,467.08 करोड़ रुपये जोड़े, जिससे इसका मूल्यांकन 6,29,525.99 करोड़ रुपये हो गया।
आईटीसी का मूल्यांकन 20,381.61 करोड़ रुपये बढ़कर 4,29,198.61 करोड़ रुपये और बजाज फाइनेंस का मूल्यांकन 13,128.73 करोड़ रुपये बढ़कर 4,54,477.56 करोड़ रुपये हो गया।
रिलायंस इंडस्ट्रीज ने सबसे मूल्यवान भारतीय फर्मों की सूची में अपना शीर्ष स्थान बरकरार रखा, उसके बाद टीसीएस, एचडीएफसी बैंकएचयूएल, आईसीआईसीआई बैंक, इंफोसिस, एसबीआई, बजाज फाइनेंस, अदानी ट्रांसमिशन और आईटीसी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *